Happy Krishna Janmashtami poems In Hindi

कन्हिया की महिमा ,
कन्हिया का प्यार ,
कन्हिया में श्रद्धा ,
कन्हिया से संसार ,
मुबारक हो आपको जन्माष्टमी का त्यौहार।
बोलो राधे राधे। ….

 

बाल रूप है सब को भाता माखन चोर वो कहलाया है,
आला आला गोविंदा आला बाल ग्वालों ने शोर मचाया है,
झूम उठे हैं सब ख़ुशी में, देखो मुरली वाला आया है,
कृष्णा जन्माष्टमी की बधाई!”

 

कान्हा!! ओ !
कान्हा आन पड़ी मैं तेरे द्वार…
ओ !! कान्हा। …
मोहे चाकर समझ निहार..
कान्हा आन पड़ी मैं तेरे द्वार ….

 

राधे -राधे जपो चले आएंगे बिहारी ,
आएंगे बिहारी चले आएंगे बिहारी। ..
राधे – राधे। ..
happy janamashtmi

 

ओ पालन हारे निर्गुण ओ न्यारे…
तुमरे बिन हमरा कउनु नाहीं …
हमारी उलझन सुलझाओ भगवन ..
तुम्हे हमको है संभाले ,
तुम्ही हमारे रखवाले

 

माखन चोर नन्द किशोर,
बांधी जिसने प्रीत की डोर,
हरे कृष्ण हरे मुरारी,
पुजती जिन्हें दुनिया सारी,
आओ उनके गुण गाएं सब मिल के जन्माष्टमी मनाये!”

 

माखन चुराकर जिसने खाया ,
बंसी बजाकर जिसने नचाया ,
ख़ुशी मनाओ उनके जन्मदिन की ,
जिसने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया। ..
Wish u very happy shri krishan janmastami 2018

Loading...
You might also like